The words you are searching are inside this book. To get more targeted content, please make full-text search by clicking here.
Discover the best professional documents and content resources in AnyFlip Document Base.
Search
Published by jharkhandudit, 2020-02-06 07:08:16

Udit Jharkhand-6 Feb-2020A

Udit Jharkhand-6 Feb-2020A

उिदत झारखंडसाधं ्य दिै नक
गरु ुवार, 6 फरवरी 2020, जमशदे परु , वर्ष 19, अंक 165, आठ पजे , मूल्य 2/-

रघवु र सरकार की सभी 20 सूत्री समितियां
भगं , नहीं मान्य होंगे किसी भी तरह के निर्देश
संवाददाता कि अब भी जहां ऐसी बैठकें हो रही ह,ंै उन्हंे बंद निगरानी एवं अनुश्रवण करना तथा विकासोन्मुख
रांची : हमे ंत सरकार ने रघवु र सरकार में बनी किया जाये. कार्य के लिए जन समदु ाय को प्रेरित करना ही
सभी 20 सतू ्री समितियों को भंग कर दिया ह.ै सरकारी कार्ायलयों को पीपुल फ्ेंरडली कमेटी का उद्देश्य ह.ै
इस बाबत सरकार की तरफ से मखु ्य सचिव बनायंे 20 सूत्री समिति के 20 सूत्र
ने सभी जिलों के डीसी को चिट्ठी 29 जनवरी इसके अलावा मुख्य सचिव ने सरकारी 1. गरीबी उन्मूलन 2. जनशक्ति 3. किसान
को ही लिख दी थी. न्यूज विंग से बात करते कार्यालयों को पीपुल फ्ंेर डली बनाने को कहा मित्र 4.श्रमिक कल्याण 5.खाद्य सरु क्षा 6.सबके
हुए मखु ्य सचिव डीके तिवारी ने बताया कि ह.ै उन्होंने कहा है कि किसी काम से कार्यालय लिए आवास 7. शदु ्ध पेयजल 8.जन-जन का
पहले की सरकार की तरफ से बनायी गयी सभी आनेवाले आम लोगों के बैठने की व्यवस्था स्वास्थ्य 9.सबके लिए शिक्षा 10. अजजा,
20 सतू ्री समितियों को भंग कर दिया गया ह.ै के साथ शौचालय, पेयजल की सवु िधा महु यै ा अजा, अल्पसंख्यक और अति पिछड़ा वर्ग
इस समिति की तरफ से लिये गये सभी फै सले करायंे. साथ ही स्वच्छता पर भी विशेष ध्यान दंे. कल्याण 11.महिला कल्याण 12.बाल कल्याण
अमान्य होंगे. इस बारे सभी जिलों के डीसी को क्या थी 20 सूत्री समितियां
13.युवा विकास 14.गांव सधु ार 15.पर्यावरण
सरकार की तरफ से चिट्ठी जारी कर दी गयी पिछड़े और निर्धन व्यक्तियों के जीवन स्तर मंे संरक्षण व वन विकास 16. सामाजिक सुरक्षा
ह.ै अब ऐसी ऐसी स्थिति मंे 20 सूत्री की कोई सधु ार लाना, कें द्र और राज्य सरकार के साथ 17. ग्रामीण सड़क 18. ग्रामीण उर्जा 19. छिड़ा
बैठक मान्य नहीं होगी. आदेश मंे कहा गया है जिला और प्रखंडों के बीच समन्वय बनाना. क्षेत्र विकास और 20. ई शासन.

चाईबासा : पीएलएफआई एरिया कमांडर सुखदवे सिंह व अलका तिवारी मखु ्य सचिव की रसे में

हथियारों के जखीरे के साथ गिरफ्तार राचं ी: वरमत् ान मखु ्य सचिव डॉ. डीके तिवारी 31
मार्च को सवे ानिवतृ ्त हो रहे हैं और उन्होंने मखु ्य
सतं ोष वर्मा विमलशे कु मार त्रिपाठी, के नते तृ ्व में छापामारी के सचू ना आयकु ्त के लिए आवदे न भी कर दिया ह.ै
चाईबासा : पश्चिम सिहं भमू जिले के नक्सल लिए टीम निकली. छापामारी के क्रम मंे जसै े ही इससे ऐसा प्रतीत हो रहा है कि उनकी सवे ा आगे
प्रभावित आनदं परु थाना क्षेत्र मंे उग्रवादी सगं ठन छापामारी दल आनन्दपरु थाना अन्तर्गत ग्राम जमीतरी बढ़ाने की सभं ावना नहीं ह.ै ऐसे मंे नए मखु ्य सचिव
पीएलएफआई सदस्यों द्वारा किसी बड़ी घटना को के पास पहचुं ा तभी अचानक पतियार के तरफ से एक को लके र विकल्पों की तलाश तजे ी से चल रही ह।ै

अजं ाम दने े के फिराक मंे थ.े लके िन ऐन वक्त पर काला रंग का आपाची मोटरसाइकिल में तीन व्यक्ति सतू ्रों की मानें तो ऐसे किसी अधिकारी को मखु ्य तक काम किया जा सके . राज्य में फिलहाल अपर नाथ सिन्हा 2024 म.ें सिन्हा अभी कंे द्र मंे है और
चाईबासा पलु िस अधीक्षक इदं्रजीत माहथा को गपु ्त हथियार के साथ आते हएु दिख.े इस बीच उन तीनो सचिव बनाने की तयै ारी की जा रही ह,ै जिनकी मखु ्य सचिव स्तर के 11 अधिकारी ह,ंै जिनमंे से चतरु ्दवे ी ने कंे द्रीय प्रतिनियकु ्ति के लिए आवदे न दे
सचू ना मिली कि आनन्दपरु थाना क्षेत्र अतं र्गत पड़ने की भी नजर पलु िस पर पड़ गयी, जिसके बाद उसमें सवे ानिवतृ ्ति अभी दरू हो। ऐसे मंे सखु दवे सिहं और दो इसी वर्ष सवे ानिवतृ ्त हो रहे हैं जबकि दो की रखा ह.ै शषे बचे अधिकारियों मंे अलका तिवारी
वाले गावं पतियार, बोरोतिका, रंगामाटी, जमीतरी सवार दो व्यक्ति मोटरसाइकिल से उतरकर जगं ल अलका तिवारी का नाम सबसे आगे ह.ै इसके सवे ानिवतृ ्ति 2021 में ह।ै अमित खरे और राजीव और सखु दवे सिहं के पास लबं ा कार्यकाल ह.ै इन
तथा गोईलके रा थाना क्षेत्र अतं र्गत ग्राम-रोयाम मंे के तरफ तथा मोटरसाइकिल चालक मोटरसाइकिल अलावा कार्मिक विभाग के अपर मखु ्य सचिव गौबा फिलहाल कें द्र मंे महत्वपरू ्ण जिम्मेदारियों को दोनों के अनभु वों को दखे ते हएु सरकार भी इन्हंे
प्रतिबधं ित उग्रवादी नक्सली सगं ठन पीएलएफआइ लके र वापस पतियार के तरफ भागने लगा. यह दखे के के खडं ेलवाल और अपर मखु ्य सचिव अरुण सभं ाल रहे हंै और उनके वापस झारखडं आने की पसदं कर रही ह.ै 2022 में सवे ानिवतृ ्त होनवे ाले के के
के कमाडं र सजु ीत कु मार राम उर्फ साहजु ी अपने 6-8 छापामारी दल ने तीनो के भागने की दिशा मंे दौड़ाकर कु मार सिहं का नाम भी चर्चा में ह.ै सतू ्रों के अनसु ार सभं ावना कम ह.ै शषे बचे अधिकारियों मंे इदं शु खे र खडं ेलवाल और अपर मखु ्य सचिव अरुण कु मार
सदस्यों का दस्ता के साथ भ्रमणशील होकर किसी तथा मोटरसाइकिलसे पीछा किया. पीछा करने के मार्च में मखु ्य सचिव की सवे ानिवतृ ्ति के परू ्व ही नए चतरु ्दवे ी 2022 मंे सवे ानिवतृ ्त हो रहे हैं तो नागदें ्र सिहं के नामों की भी चर्चा ह.ै
बड़ी वारदात को अजं ाम दने े वाला ह.ंै इस सचू ना क्रम में काला रंग का जकै े ट पहना हआु व्यक्ति को मखु ्य सचिव की तलाश परू ी कर लने ी होगी और
पर पलु िस अधीक्षक द्वारा सहायक पलु िस अधीक्षक घरे कर पकड़ लिया गया, जिसके पास से तलाशी के इसके लिए सरकार के स्तर से मथं न का दौर चल
अभियान प्रणव आनन्द झा, अपर पलु िस अधीक्षक क्रम में हथियार, गोली एवं अन्य सामान बरामद हआु रहा ह.ै सतू ्रों के अनसु ार सरकार ऐसे अधिकारी को
सह चक्रधरपरु अनमु डं ल पलु िस पदाधिकारी नाथु तथा शषे बचे दो व्यक्ति जगं ल तथा पहाड़ का लाभ मखु ्य सचिव बनाना चाहती है जिसकी सवे ानिवतृ ्ति
सिहं मीणा, मनोहरपरु अ़नमु डं ल पलु िस पदाधिकारी उठाकर भाग गय.े में अभी समय हो। तालमले के साथ लबं े समय

साइबर गंगै पकड़ाने के बाद भी कम नहीं हएु ओएलएक्स से ठगी के मामले
हर दिन आ रहा एक मामला, लोगों को साइबर अपराध के प्रति होना होगा जागरूक
रोहित कु मार शहर के लोग साइबर अपराध के प्रति जागरुक ऐसे आये हैं जिनमें लोगो को ओएलएक्स में साथी आ जाएगा. फिर वह तत्काल ऑनलाइन करते हुए वह घटना को अंजाम देता है. ऐसे
जमशेदपुर : शहर मंे आये दिन साइबर ठगी के नहीं होंगे तब तक इस साइबर अपराध की सामान बेचने या खरीदने की बात कहकर ठगा पेमंेट की बात कहता है. यहां से शुरू होता है बचंे साइबर ठगी से : साइबर ठगी से पुलिस
मामले मंे बढ़ते ही जा रहे हंै. हालांकि पिछले दनु िया को खत्म नहीं किया जा सकता है. उन्होंने गया था. ऐसे देते हैं घटना को अंजाम असली खेल. अपराधी पीड़ित को एक लिंक आपको नहीं बचा सकती. इसके लिए आपको
ही दिनों जमशेदपुर की साइबर पुलिस ने साइबर बताया कि ज्यादातर मामलों में देखा गया है कि : कोई भी व्यक्ति जो ओएलएक्स पर सामान भेजता है. यह लिंक पेमेंट संेट की जगह पेमंेट खुद को जागरूक करना होगा. अगर आप
क्राइम करने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़ किया साइबर अपराधी आर्मी का अधिकारी बनकर बेचने के या खरीदने के लिए विज्ञापन डालता रिक्वेस्ट का होता है, जिसमें साफ तौर पर ऑनलाइन भुगतान प्राप्त कर रहे हैं, तो मोबाइल
था. इसके बावजूद अपराध मंे कमी नहीं नजर लोगों को अपने विश्वास में लेकर खुद आर्मी है, उससे अपराधी आर्मी का अधिकारी बनकर अंग्रजी भाषा मे लिखा होता है. यहां मैसेज को पर आये हुए मैसेज को पढ़कर ही उस पर क्लिक
आ रही है. आये दिन एक न एक पीड़ित साइबर का अफसर होने का दावा करते हंै, जिससे लोग संपर्क करते हैं. उसके बाद वह संबंधित व्यक्ति न पढ़कर व्यक्ति उस लिंक को क्लिक कर देता करंे. वहीं आप किसी से सामान की खरीदारी
थाने मंे ओएलएक्स से जुड़ा मामला लेकर उनके झांसे में आकर फं स जाते हंै. हर दिन को फोन पर यह विश्वास दिलाता है कि वह है. क्लिक करते ही उसके खाते से उतने रुपये कर रहे हंै तो बेचने वाले व्यकित से मिलकर ही
शिकायत के लिए पहुंच रहा है. साइबर थाना आ रहा है औसतन एक मामला : साइबर एक आर्मी का जवान है. वर्तमान मंे कहीं और कट जाते हैं. इसके बाद अपराधी गलती होने सामान खरीदंे. ओएलएक्स भी अपनी वेबसाइट
प्रभारी उपेंद्र मंडल का कहना है कि जब तक थाना मंे सिर्फ जनवरी माह में ही 38 मामले पदस्थापित है. सामान लेने के लिए उसका एक की बात कहते हुए फिर से लिंक भेजता है. ऐसा पर लोगों को यही सलाह देता है.














Click to View FlipBook Version
Previous Book
KEWANGAN PIBG APRIL 2019
Next Book
MAJLIS PENETAPAN TARGET SPM&STPM 2020